♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

मुसलमान ख़तरे में नहीं बोलीं साध्वी निरंजन ज्योति 

 मुसलमान ख़तरे में नहीं बोलीं साध्वी निरंजन ज्योति

मिडिया से मुखातिब होती साध्वी निरंजन ज्योति केंद्रीय मंत्री

हर्ष शर्मा संवाददाता झांसी

झांसी में डॉ भीमराव अंबेडकर जयंती के अवसर पर भारतीय जनता पार्टी की ओर से मेहंदी बाग में एक संगोष्ठी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंची केंद्रीय राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने मीडिया से बात करते हुये समाजवादी पार्टी और ममता सरकार पर हमला वोलते हुये कहा कि ममता अपना नाम बदल ले तो अच्छा होगा और जिस तरह कांग्रेस खत्म हुई है वैसे ही सपा भी खत्म हो जाएगी।केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने कहा कि जब कहीं भाजपा जीतती है तो संविधान खतरे में पड़ जाता है, खतरे में पश्चिम बंगाल है तो देश खतरे में नहीं है, जब वहां हत्या हो रही और खुलेआम गुंडागर्दी हो रही है तो कोई नहीं बोल रहा है। न सपा बसपा बोले न कांग्रेस बोले, राजस्थान में जिस तरह जुलूस के अंदर पथराव हुआ वहां पर प्रियंका गांधी ने मुंह में ताला डाल लिया तो देश खतरे में नहीं पढ़ा और उत्तर प्रदेश में कहीं यह घटना घट जाती तो देश खतरे में पड़ जाता, वही मुसलमानों को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस से लेकर देश में जितनी भी राजनीतिक पार्टियां हैं उन्होंने उस समाज का शोषण किया है, वोट बैंक का माध्यम बनाकर। भारतीय जनता पार्टी आ जाएगी तो मुसलमान खतरे में पड़ जाएगा, जबकि मुसलमान अब सबसे ज़्यादा सुरक्षित है, 2014 और 2017 में प्रदेश में कौनसा मुसलमान खतरे में है, यही प्रदेश है जब सपा सरकार में दंगे होते थे और दंगा होता है तो अकेला हिंदू नहीं मारा जाता है मुसलमान भी मारा जाता है। अब कोई दंगा नहीं हो रहा है।केंद्रीय मंत्री ने कहा यदि मुसलमानों को भला किसी ने किया है तो मोदी जी ने किया हिंदू को आवास दिया तो मुसलमानों को भी दिया है। हमने कभी किसी के साथ धोखा नहीं दिया, ये धोखेबाज लोग हैं भाजपा आ जाएगी तो मुसलमान खतरे में हो जाएगा यहां कोई खतरे में नहीं है, इनकी राजनीतिक मानसिकता जरूर खतरे में है अगर यही स्थिति रही तो जिस तरह कांग्रेस खत्म हुई है वैसे ही सपा भी खत्म हो जाएगी। पश्चिम बंगाल में यदि जो दंगा हो रहा है हिंदू और मुसलमान दोनों मारे जा रहे हैं, क्या उस सरकार पर कोई नहीं बोलेगा क्योंकि वहां खतरे मैं नहीं है देश। मैं तो कहती हूं कि ममता तुम अपना नाम बदल लो, ममता का मतलब होता है जो मां होती वो ममता के रूप होती है, एक बार बच्चा भी शरीर में गंदगी कर देता है तो मां उसको भी साफ करके उसको उतने प्यार से रखती है। जहां जिस तरह से बहन बेटी के साथ इज्जत लूटी जा रही है खुले आम लोगों का कत्लेआम हो रहा है। ममता चुपचाप बैठी है, उनके गुंडे हावी हैं यह बहुत बड़ी विडंबना है कि एक महिला के क्षेत्र में इस तरह के गुंडागर्दी करने वाले लोग खुले आम लोगों के घर जलाए। मुझे लग रहा है ममता ममता नहीं है अब और कुछ नाम रख दिया जाए तो अच्छा रहेगा।

 

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें




स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे


जवाब जरूर दे 

झांसी में हो रही बिजली आपूर्ति से आप खुश हैं

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129