♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

साहब को भी तो देना है, चैक नहीं चलता रिश्वत में! लेखपाल सस्पेंड

वायरल वीडियो : साहब को भी तो देना है, चैक नहीं चलता रिश्वत में! लेखपाल सस्पेंड

रिश्वत मांगता लेखपाल

हर्ष शर्मा संवाददाता झांसी

झाँसी। देश की मोदी और प्रदेश की योगी सरकार भले ही जीरो टॉलरेंस नीति पर जोर दे रही हो, लेकिन निचले स्तर पर तैनात नौकरशाह अब भी भ्रष्टाचार से परहेज नहीं कर रहे हैं। अगर बात करें झाँसी के वायरल वीडियो की तो रिश्वत का पैसा ऊपर तक भी जाने के संकेत मिल रहे हैं। बहरहाल लेखपाल का वीडियो वायरल होने के बाद उसे निलंबित कर दिया गया है। बताते चलें कि सरकार कोई भी हो, किंतु सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार राजस्व विभाग में होने की ही सूचना मिलती रहती है। ऐसा ही एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें तहसील सदर में तैनात लेखपाल संतोष गौर किसी व्यक्ति से काम के एवज में रुपये मांगता नजर आ रहा है। वह साफ कह रहा है कि फिफ्टी परसेंट एडवांस दो, बाकी काम होने पर। ताज्जुब तो तब हुआ जब उसने यह कहा कि अमुक साहब को भी हिस्सा देना पड़ता है तभी वह फ़ाइल पर दस्तखत करते हैं। साथ ही यह भी कहा की रिश्वत कैश ही चलती है, इसका चैक नहीं लिया जाता। वीडियो वायरल होने के बाद राजस्व विभाग ने इज्जत बचाने का प्रयास किया।

सिटी मजिस्ट्रेट, राजेश कुमार

तत्काल एसडीएम सदर द्वारा लेखपाल को निलंबित करते हुये जांच भी शुरू करा दी गई। वहीं इस पूरे मामले में सिटी मजिस्ट्रेट राजेश कुमार ने मीडिया को बताया कि ज़िला प्रशासन ने प्रभावी कार्यवाही करते हुए लेखपाल के विरुद्ध 13/1A 13/1B आईपीएस की धारा 504, 506 के तहत मुक़दमा दर्ज कराया गया है। वहीं लेखपाल को गिरफ़्तार कर लिया गया है और उससे पूछताछ करने के बाद कोर्ट में पेश किया जाएगा। दूसरी ओर वायरल वीडियो के हर एक तथ्यों की जाँच की जा रही है।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें




स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे


जवाब जरूर दे 

झांसी में हो रही बिजली आपूर्ति से आप खुश हैं

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129